Monthly Archives: August 2014

aabhoj

ki

जल ही जीवन है

जल ही जीवन है और जल के बिना स्‍वस्‍थ भी नहीं रहा जा सकता है। सही भी है आप कुछ दिन बिना खाए तो रह सकते हैं लेकिन बिना पानी के जीवित रह पाना मुमकिन नहीं। पानी न सिर्फ हमारी प्यास बुझाता है बल्कि पाचन-तंत्र से लेकर मस्तिष्क के विकास तक में अहम भूमिका निभाता है। पानी मानव जीवन के लिए बहुमूल्य है और बचपन से ही हम इसके फायदों के बारे में सुनते आये हैं। किसी भी बीमारी में पानी रामबाण की तरह काम करता है। पानी का प्रयोग कई तरीकों से प्राकृतिक उपचार के रूप में होता है। पानी निर्जलीकरण के कारण होने वाले सरदर्द और पीठदर्द से राहत दिलाता है और हमारे शरीर को तरोताज़ा रखता है। वजन कम करने के लिए पानी का प्रयोग कीजिए।

पानी मुख्यत: आपके शरीर को हाइड्रेटेड रखने के लिए जरूरी होता है। पर्याप्त पानी पीने से शरीर में इसकी कमी नहीं होती। अगर आप पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं पीते तो आपके शरीर में मेटाबालिज्म की गति धीमी हो जाती है। इसका अर्थ है वसा के अवशोषण के लिए पानी आवश्यक है। प्रतिदिन कम से कम 8 से 10 गिलास पानी पीने से आपका शरीर सुडौल भी बनता है। आपने बहुत से एण्टी एजिंग क्रीम का प्रयोग किया होगा। अब पर्याप्त मात्रा में पानी पीकर देखें। यह त्वचा के ऊतकों को फिर से भरता है, त्वचा को नमी और इलास्टिसिटी प्रदान करता है। युवा दिखने का सरल उपाय अपनायें और पानी पीयें। तो पानी पीकर फिट रहें –

oye to roj ye sari chize mere ghr bhijwa diya kr okkk tu acha dost h na mera khyal rkhna chahiye.,.

fghxfh